Home हमर छत्तीसगढ़ समय का सदुपयोग: Quarantine Center का कर दिया कायाकल्प, बिखरी हरियाली

समय का सदुपयोग: Quarantine Center का कर दिया कायाकल्प, बिखरी हरियाली

57
0
Corona warriors

रायपुर. अन्य राज्यों से लौटे श्रमिकों ने क्वारेंटीन सेंटरों (Quarantine Center) में रंगाई-पोताई, बागवानी और साफ-सफाई करके परिसरों और उद्यानों को मनमोहक बनाने में लगे हैं।

दरअसल जांजगीर-चांपा जिला मुख्यालय स्थित पोस्ट मैट्रिक छात्रावास में बनाए गए विशेष क्वारंटीन सेंटर (Quarantine Center) में रह रहे श्रमिकों ने कैंपस का कायाकल्प ही कर दिया।

यहां के उद्यान में साफ-सफाई करने वृक्षों की टहनियों को छांटकर सुडौल बनाकर

क्वारंटिन (Quarantine Center) मजदूरों ने उद्यान की सुंदरता बढ़ा दी है।

श्रमिकों ने छात्रावास परिसर की साफ-सफाई और उद्यान को संवारने में श्रमिकों ने स्व-प्रेरणा से कार्य किया है।

राज्य सरकार की पहल पर विशेष आवश्यकता वाली गर्भवती महिलाओं को

जिला मुख्यालय में बनाए गए विशेष क्वारंटीन सेंटर (Quarantine Center) मेें रहने की व्यवस्था की गयी है।

Gopinath Temple: जब 5 सौ साल पुराना मंदिर दिखाई देने लगा महानदी के पानी में

सहमति के आधार पर उनके श्रमिक पति भी साथ रह रहे हैं।

इन गर्भवती महिला श्रमिकों और परिवार के साथ रह रहे पुरूष श्रमिकों को

जिला प्रशासन द्वारा गर्म भोजन, स्वल्पाहार आदि उपलब्ध कराया जा रहा है।

क्वारंटीन सेंटर (Quarantine Center) में रह रहे श्रमिक परिसर को स्वच्छ करके अपने समय का सदुपयोग कर रहे हैं।

जांजगीर एसडीएम द्वारा उद्यान को संवारने के लिए श्रमिकों को कुछ जरूरी औजार उपलब्ध करवाया गया।

Hackers से बचना है तो अपने स्मार्टफोन में रखें ये जरूरी सावधानियां

श्रमिकों ने अपने खाली समय, अनुभव व श्रम का सदुपयोग करके परिसर को संवार दिया है।

गौरतलब है कि राज्य सरकार की पहल पर गर्भवती महिला श्रमिकों को पौष्टिक आहार देने के साथ-साथ

उनका हीमोग्लोबिन जांच, कोरोना जांच, कैल्सियम और आयरन टेबलेट दिया जा रहा है।

छोटे बच्चों और गर्भवती महिलाओं का नियमित टीकाकरण किया जा रहा है।

इसके अलावा महिला एवं बाल विकास की योजना के तहत भी इन श्रमिकों को लाभान्वित किया जा रहा है।

NIRF Ranking: ये हैं देश के टॉप कॉलेज व यूनिवर्सिटी, आईआईटी मद्रास टॉप

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here