Home अपराध Hackers से बचना है तो अपने स्मार्टफोन में रखें ये जरूरी सावधानियां

Hackers से बचना है तो अपने स्मार्टफोन में रखें ये जरूरी सावधानियां

234
0
smartphone if you want to avoid hackers

नई दिल्ली. स्मार्टफोन (smartphone) आज हर किसी की जिंदगी का एक अहम हिस्सा बन गया है। इसके बगैर लाईफ की कल्पना कैसी होगी यह हर कोई जानता है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि आपकी जरा सी चूक हैकर्स (Hackers) को आपके फोन की हैकिंग के लिए दावत दे सकती है।

एक ओर जहां हर महीने स्मार्टफोन (smartphone) की बिक्री बढ़ती ही जा रही है तो वहीं रोज नए-नए फीचर और एप्लीकेशन आ रहे हैं। ऐसे में स्मार्टफोन की सुरक्षा पर भी सवाल उठने लगे हैं। लोग ऑनलाइन शॉपिंग और ट्रांजेक्शन भी अपने स्मार्टफोन से करने लगे हैं लिहाजा हैकर्स (Hackers) ताक पर रहते हैं कि जरा सी चूक हो और आपके एकाउंट से पैसे गायब कर दें। हम कुछ ऐसे टिप्स बता रहे हैं जिसे अपनाकर आप हैकर्स की नजरों से बच सकते हैं।

किसी भी साईट से एप्लीकेशन डाउनलोड न करें

आप अपने फ़ोन पर कभी किसी थर्ड पार्टी एप्लीकेशन को इंस्टॉल न करें, ये आपके फोन और आपकी सेहत के लिए बेहद घातक हो सकता है। कई बार हैकर्स ऐसी साईटों का इस्तेमाल कर आपके फोन में कुछ बग छोड़ सकते हैं। ऐसे में हमेशा प्ले स्टोर या फिर एप स्टोर से ही एप्लीकेशन डाउनलोड करें।

पासवर्ड कमजोर न रखें

अपने स्मार्टफोन में ऐसा कोई भी पासवर्ड न रखें जिससे हैकर्स आसानी से इसे तोड़ सके।

हमेशा स्ट्रॉग पासवर्ड का ही इस्तेमाल करें। कमजोर पासवर्ड अक्सर हैकर्स का शिकार बनते हैं।

पासवर्ड में कभी भी अपने नाम और जन्मतिथि का इस्तेमाल न करें।

समय-समय पर फोन अपडेट करें

अपने स्मार्टफोन को समय-समय पर अपडेट करते रहें। ऐसा करने से हैकर्स आपकी पर्सनल जानकारी को हैक करने में सफल नहीं हो पाएंगे।

यही नहीं फोन करने पर एंड्रॉयड सिक्योरिटी पैच के साथ कई सारे सुरक्षा फीचर्स मिलते हैं

जिसके चलते आपका फोन सिक्योर होता है।

मैसेजिंग एप्लीकेशन का करें इस्तेमाल

जानकार बताते हैं कि मैसेजिंग एप का इस्तेमाल करना अच्छा होता है

क्योंकि इस एप्लीकेशन में यूजर्स के डेटा सुरक्षित होते हैं। साथ ही इनमें सेफ्टी फीचर्स भी मिलते हैं।

दूसरी तरफ साधारण मैसेज प्लेटफॉर्म पर ऐसा कुछ नहीं होता।

इन बातों से बचें

वॉट्सअप (Whatsapp) या कॉल पर कभी भी अपनी पर्सनल डिटेल्स शेयर न करें, ऐसा करना आप पर भी भारी पड़ सकता है।

अक्सर हैकर्स ऐसे ही लोगों की फिराक में रहते हैं जो अपनी पर्सनल डिटेल्स को शेयर कर देते हैं।

लिहाजा ऐसा करने से बचें।

NIRF Ranking: ये हैं देश के टॉप कॉलेज व यूनिवर्सिटी, आईआईटी मद्रास टॉप

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here